नए साल के पहले ही दिन PAK ने तोड़ा सीजफायर, बीएसएफ ने की जवाबी फायरिंग

श्रीनगर. नए साल के पहले ही दिन पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के शाहपुर इलाके में फायरिंग की। यह क्षेत्र पुंछ जिले में आता है। बीएसएफ ने पाकिस्तान की इस फायरिंग का माकूल जवाब दिया। बता दें कि शुक्रवार को भी पाकिस्तान ने एलओसी पर भारतीय पोस्टों को निशाना बनाकर भारी हथियारों से फायरिंग की थी। इसका जवाब भी बीएसएफ की तरफ से दिया गया था। घुसपैठ की कोशिश…

– मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान की तरफ से रविवार और शुक्रवार को की गई फायरिंग का मकसद सिर्फ आतंकियों को घुसपैठ कराना है। हाल के दिनों ने बीएसएफ और इंडियन आर्मी ने एलओसी और इंटरनेशनल बॉर्डर पर सिक्युरिटी रिवाइज की है। इसके बाद से घुसपैठ की घटनाओं में कमी आई है। 

– 2 नवंबर के बाद से एलओसी पर सीजफायर में कमी आई। लेकिन, नए साल के पहले दिन पाकिस्तान ने सीजफायर फिर तोड़ा। 

– पाकिस्तान में पिछले महीने नए आर्मी चीफ कमर वाजबा ने चार्ज लिया है। भारत में भी दलबीर सिंह सुहाग की जगह लेफ्टिनेंट जनरल बिपिन रावत आर्मी चीफ बनाए गए हैं। सुहाग दो दिन पहले ही नौशेरा सेक्टर के दौरे पर गए थे। 

– पिछले दिनों राज्यसभा में एक रिपोर्ट में सरकार ने बताया था कि 2016 में पाकिस्तान ने 430 बार सीजफायर वॉयलेशन किए। 

पुलिस कॉन्स्टेबल शहीद

– शनिवार को हंदवाड़ा के चोंगल क्षेत्र में पुलिस चौकी के पास आतंकी हमले में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया था। रविवार को राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। 

– आतंकियों ने शाम सात बजे चौकी पर हमला किया था। अंधेरे का फायदा उठाकर आतंकी भाग निकले थे।  

पिछले साल 26 स्कूलों में लगाई आग

– कश्मीर में प्रदर्शनकारियों की तरफ से स्कूलों को निशाने पर लिया गया है। 

– कश्मीर हिंसा में पिछले साल 26 स्कूलों में आग लगाई गई थी। सरकार को इससे करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है। वहीं, बच्चों की पढ़ाई पर भी असर हुआ। सीएम महबूबा मुफ्ती ने इसकी निंदा की थी। 

Advertisements